HomeCareerआईटीआई करने के बाद क्या करें? ITI Ke Baad Kya Kare

आईटीआई करने के बाद क्या करें? ITI Ke Baad Kya Kare

आईटीआई करने के बाद क्या करें: जैसा की आप जानते हैं आइटीआई (ITI) एक पेशेवर शैक्षणिक कोर्स है जिसका उद्देश्य छात्रों को किसी विशिष्ट क्षेत्र में कौशल विकसित करके उन्हें उद्योग के लिए सक्षम बनाना है। इससे उन्हें भारतीय उद्योग में आवश्यक कौशल सीखने के अवसर प्राप्त होते हैं। मगर, ITI कम्पलीट होने के बाद क्या? आज इस आर्टिकल में हम आपको ITI के बाद मिलने वाले नौकरी के अवसर, ऑनलाइन इनकम के साधन एवं अन्य आवश्यक जानकारी के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं।

आईटीआई करने के बाद नौकरी के अवसर

छात्रों के द्वारा ITI पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद, उन्हें अपने द्वारा प्राप्त कौशल एवं रुचियों के आधार पर विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार के अवसर प्राप्त होते हैं। ITI ग्रेजुएट्स को निम्नलिखित विभागों में रोजगार मिल सकता है।

  • सरकारी नौकरी : रेलवे, विद्युत विभाग, बीएसएनएल, अविनयन विभाग, सेना, वायुसेना, नौसेना, पोस्ट ऑफिस, पुलिस आदि में ITI डिप्लोमा वालों को नौकरी मिल सकती है।
  • प्राइवेट जॉब्स : ITI ग्रेजुएट्स को विभिन्न प्रमुख कंपनियों जैसे मारुती सुजुकी, महिंद्रा, ह्युंडई, टाटा मोटर्स, आदि में नौकरी करने के अवसर प्राप्त हो सकते हैं।
  • अपरेंटिसशिप : नौकरी के अनुभव प्राप्त करने हेतु ITI छात्र अपरेंटिसशिप का सहारा ले सकते हैं। इससे उन्हें अपने क्षेत्र के बारे में व्यावहारिक ज्ञान एवं अनुभव की प्राप्ति होगी।

1. अपरेंटिसशिप (Apprenticeship)

ITI के बाद आप अपरेंटिसशिप कर सकते हैं, जोकि एक साल की होती है। इसके तहत सरकार की तरफ से प्राइवेट लिमिटेड एवं गवर्मेंट सेक्टर की कंपनियों एवं रेलवे में वैकेंसी निकलती है। इसके लिए अप्लाई करने के लिए आपको सबसे पहले फार्म भरना पड़ेगा। इसके बाद आपका सलेक्शन होने पर आप अपरेंटिसशिप कर पाएंगे।

इसके तहत आपको हेल्पर की पोस्ट दी जाएगी और एक साल के लिए आपसे काम करवाया जाएगा। इसमें आप एक साल तक केवल ट्रेनिंग लेंगे एवं आपको हर महीने सेमी स्किल वर्कर की सैलरी से 10 फीसदी कम सैलरी प्राप्त होगी। जब आपका एक साल पूरा हो जायेगा, तब आपका पेपर और प्रैक्टिकल होगा। आपको इस एक साल के लिए सरकार की तरफ से अप्रेंटिस सर्टिफिकेट दिया जायेगा। जिसे ATC (Apprenticeship Trade Certificate) कहा जाता है।

एससीवीटी (स्टेट कॉउन्सिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग) – आपको बता दें SCVT से ITI करने पर आप अपने राज्य के बाहर काम नहीं कर सकते। इसी के साथ आपको अपरेंटिसशिप में 2 साल का समय देना पड़ेगा। मगर SCVT से ITI करने वालों के लिए एक विकल्प है। उन्हें एक पेपर देना होगा, जिससे उन्हें NCVT का सर्टिफिकेट प्राप्त हो जाएगा। आप NCVT का सर्टिफिकेट लगाकर अपने राज्य के बाहर काम कर सकते हैं।

एनसीवीटी (नेशनल कॉउन्सिल फॉर वोकेशनल ट्रेनिंग) – अगर आपने NCVT से ITI की है, तो आप अपने राज्य से बाहर भी काम कर सकते हैं। अगर आपका अपरेंटिसशिप में सलेक्शन नहीं हो रहा है, तो आपको परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। जहाँ आप रहते हैं, वहां आसपास कोई सरकारी ITI संस्थान होगा। आप वहां जाकर बात कर सकते हैं और वह आपको किसी प्राइवेट या सरकारी सेक्टर में लगवा देंगे।

अगर आपको केवल गवर्मेंट सेक्टर से अपरेंटिसशिप करनी है, तो आप नीचे दी गई बेवसाइट पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं। अपरेंटिसशिप करने हेतु आप www.apprenticeship. gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

  • अगर आपकी ITI पूरी नहीं हुई है अथवा आपने लास्ट सेमेस्टर या फाइन ईयर के पेपर दे दिए हैं, तो आप अपेयरिंग का विकल्प चुनकर फॉर्म भर सकते हैं।
  • अगर आपकी ITI पूरी हो चुकी है अथवा आपको ITI सर्टिफिकेट प्राप्त हो चुका है, तो आप फार्म भर सकते हैं।

2. सीटीआई या सीआईटीएस

यह एक साल का कोर्स है, जिसके तहत जो लोग ITI कंप्लीट कर चुके हैं एवं आईटीआई की टीचिंग लाइन में जाने का विचार कर रहे हैं वह CTI/CITS कर सकते हैं। इस कोर्स को आप प्राइवेट या गवर्मेंट किसी भी संस्थान से कर सकते हैं।

CTI/CITS कर लेने के पश्चात् आप इस सर्टिफिकेट की मदद से ITI के प्राइवेट संस्थान में पढ़ा सकते हैं। इसी के साथ आप गवर्मेंट संस्थान के लिए टीचर की वैकैंसी निकलने पर आवेदन कर सकते हैं। मगर इस सर्टिफिकेट का कंपनियों और किसी अलग तरह की बिना टेक्निकल वाली टीचिंग जॉब में कोई महत्त्व नहीं है।

3. डिप्लोमा या पॉलिटेक्निक

ITI करने के बाद पॉलिटेक्निक कर सकते हैं। आपको इसके लिए पॉलिटेक्निक के ग्रुप ‘K’ से अप्लाई करने की ज़रूरत होगी। अगर आपका इसमें चयन हो जाता है, तो आपका एडमिशन सीधे सेकेण्ड ईयर में होगा। मगर आपको बता दें सेकेण्ड ईयर में आपको सेकेण्ड ईयर के एग्जाम के साथ फर्स्ट ईयर का भी एग्जाम देना होगा।

आपको सभी विषय में उत्तीर्ण भी होना होगा। अगर किसी कारण से आपकी किसी विषय में बैक आ जाती है या आप फेल हो जाते हैं, तो आपको इसका दुबारा से एग्जाम देकर पास करना होगा।

4. सरकारी नौकरी की तैयारी

ITI पूरी कर लेने के बाद आप गवर्मेंट जॉब की तैयारी कर सकते हैं। अगर आपको अपनी ट्रेड के बारे में अच्छा ज्ञान है, तो आप अपनी ट्रेड संबंधित गवर्मेंट जॉब (जैसे- रेलवे, गवर्नमेंट स्टील फैक्ट्री, गन फैक्ट्री, DRDO, ISRO, बिजली विभाग) की तैयारी कर सकते हैं और एग्जाम पास करने के बाद जॉब प्राप्त कर सकते हैं।

5. प्राइवेट जॉब

यह विकल्प उन लोगों के लिए है, जिन्होंने सरकारी परीक्षा में सफलता प्राप्त नहीं की है। सभी के जीवन में सरकारी नौकरी नहीं होती है, इसलिए निराश होने की ज़रूरत नहीं है। यह विकल्प उनके लिए है, जो लोग ITI से सम्बन्धित या किसी अन्य तरह की सरकारी नौकरी प्राप्त नहीं कर पाते हैं।

अगर आप भी इस श्रेणी में आते हैं तो निराश न हो, आप प्राइवेट जॉब का विकल्प चुन सकते हैं। क्योंकि इसमें भी अच्छा खासा पैसा है। आजकल 90% लोग प्राइवेट जॉब ही करते हैं। क्योंकि प्राइवेट जॉब पाने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती। आजकल कंपनियों में टेक्निकल लोगों की मांग अधिक रहती है, जिससे आपको नौकरी मिलने के चान्स बढ़ जाते हैं।

ITI के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

ITI के बाद आगे क्या कर सकते हैं?

ITI के बाद, आप ऊपर दिए गए नौकरी के अवसरों या ऑनलाइन इनकम के साधनों का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप अपरेंटिसशिप कर सकते हैं या आगे पढ़ाई जारी रख सकते हैं।

ITI के बाद क्या आगे पढ़ाई की जा सकती है?

जी हां, ITI के बाद आप अपने विषय से जुड़े डिप्लोमा या डिग्री कोर्स में अध्ययन कर सकते हैं।

ITI के बाद ऑनलाइन कमाई के लिए क्या हैं विकल्प?

ITI के बाद, आप फ्रीलांसिंग, ई-कॉमर्स, ऑनलाइन ट्यूटरिंग, ब्लॉगिंग, यूट्यूब, आदि के ज़रिये ऑनलाइन कमाई कर सकते हैं।

Note : यह लेख आईटीआई करने के बाद क्या करें? ITI Ke Baad Kya Kare इसके बारे में था। जिसमे आपको ITI करने के बाद आप क्या कर सकते है। इसके बारे कुछ आईडिया बताये गए है। अगर आपका इस लेख से सम्बंधित कोई भी सवाल है, तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा, तो कृपया इस लेख को अपने सभी दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें, धन्यवाद।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular